Fri. Sep 24th, 2021

    पर्यावरण संरक्षण के साथ जोड़ना सिखा रही है नगर विकास समिति – बंटी डामोर

    थांदला से (विवेक व्यास, माधव एक्सप्रेस) – थांदला नगर में धार्मिक आस्था के साथ कैसे पर्यावरण को भी सुरक्षित रखा जाए।पर्यावरण जीवन-स्त्रोत है जो अनादिकाल से पृथ्वी पर मानव एवं संपूर्ण जीव जगत को न केवल प्रश्रय देता रहा है, अपितु उसे विकास के प्रारंभिक काल से वर्तमान तक अस्तित्व मे बनाए रखने का आधार रहा है। भविष्य का जीवन भी इसी पर निर्भर करता है। वायु, जल, मृदा, जीव, जंतु तथा वनस्पति पर्यावरणीय मूल घटक है, जिनकी पारस्परिक क्रिया-प्रतिक्रिया से संपूर्ण जैवमंडल परिचालित होता है। जैवमंडल मे जीवन का उद्धव, विकास एवं विलुप्त होना इस तथ्य पर निर्भर करता है कि प्रकृति अथवा प्राकृतिक वातावरण के साथ उसका कितना समन्वय एवं सामंजस्य है।इस पर पूरे विश्व भर के पर्यावरण विशेषज्ञ कार्य कर रहे हैं, और थांदला नगर की नगर विकास समिति , इको फ्रेंडली एवं मिट्टी के गणेश जी बनाओ प्रतियोगिता आयोजित कर पूरे विश्व को धार्मिक आस्था और पर्यावरण से जोड़कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दे रही है। उक्त बातें नगर विकास समिति, लायंस क्लब, एवं नगर परिषद थांदला द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित इको फ्रेंडली एवं मिट्टी के गणेश जी बनाओ प्रतियोगिता के दौरान आयोजित कार्यक्रम में नगर परिषद अध्यक्ष बंटी डामोर द्वारा कही गई। उक्त प्रतियोगिता में अंचल के बच्चों एवं युवाओं द्वारा उत्साह पूर्वक हिस्सा लिया गया। आयोजन के सहयोगी एवं आर्य समाज अध्यक्ष विश्वास सोनी ने बच्चों एवं युवाओं द्वारा किए गए प्रयासों की जमकर सराहना की, उन्होंने कहा कि मिट्टी, पेपर एवं अन्य पर्यावरण मुल्क वस्तुओं का उपयोग कर बनाई गई श्री गणेश की संरचना सराहनीय है। प्रतिभागियों की कला को राम बिहारी रायपुरिया खंड स्त्रोत समन्वयक जनपद शिक्षा केंद्र थांदला द्वारा भी सराहा गया। पार्षद गोलू उपाध्याय ने संबोधित करते हुए कहा समिति एवं लायंस क्लब द्वारा पर्यावरण संरक्षण का जो संदेश दिया जा रहा है और सराहनीय है। जो कार्य प्रशासन के द्वारा किया जाना चाहिए नगर विकास समिति द्वारा कर सराहनीय कार्य किया जा रहा है।
    नगर विकास समिति के अध्यक्ष सीमा शाहजी ने बताया कि बीते बीते 6 वर्षों से लगातार आयोजित की जा रही इस प्रतियोगिता में इस वर्ष 60 से अधिक कला प्रेमी एवं पर्यावरण प्रेमी बच्चों एवं युवाओं ने हिस्सा लिया। प्रतियोगिता तीन वर्गों में रखी गई के प्रथम एवं मिनी वर्ग में लीहाना कांकरिया ने प्रथम स्थान,हिया उपाध्याय ने द्वितीय स्थान चितरंजन उपाध्याय ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। द्वितीय वर्ग जूनियर वर्ग में पार्थ नागर ने प्रथम स्थान, निवी राठौड़ ने द्वितीय स्थान एवं रियांशा चौहान ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। सीनियर वर्ग में प्रीतम पंचाल ने प्रथम स्थान राहुल वर्मा ने तृतीय स्थान व रिद्धिमा सोनी ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। लायंस क्लब अध्यक्ष बी एल गुप्ता, भक्त मलूक दास रामायण मंडल अध्यक्ष किशोर आचार्य , युवा एवं ऊर्जावान पार्षद गोलू उपाध्याय, एवं समाजसेवी राजू धानक द्वारा पुरस्कार देकर प्रतिभावान इको फ्रेंडली गणेश जी बनाने वाले कलाकारों को पुरस्कार देकर सम्मानित एवं संबोधित किया । साथ ही प्रतियोगिता के समस्त प्रतिभागियों को भी सांत्वना पुरस्कार द्वारा पुरस्कृत किया गया । अवसर पर नगर विकास समिति के संजय धानक, रितेश गुप्ता, ऋषि भट्ट, प्रशांत उपाध्याय, मयंक पावेचा, नगर परिषद के विजय गिरी, धार्मिक आचार्य सहित कर्मचारी, एवं प्रतिभागियों के पालकगण उपस्थित रहे।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *