Fri. Sep 24th, 2021

    नई दिल्ली । भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल और चीनी विदेश मंत्री वांग यी की बातचीत के बाद सीमा विवाद हल्का पड़ता दिख रहा है। तीन राउंड में हुई सैन्य अधिकारी स्तर की बातचीत में कोई हल निकलता नहीं दिख रहा था। 5 जुलाई को भारत की तरफ से सीमा विवाद को लेकर विशेष प्रतिनिधि नियुक्त किए गए अजित डोभाल की चीनी विदेश मंत्री से हुई बातचीत के बाद अब स्थितियां सामान्य होती दिख रही हैं। चीनी विदेश मंत्री वांग यी को भी चीन ने विशेष प्रतिनिधि नियुक्त किया है।
    भारत सरकार द्वारा जारी विज्ञप्ति के मुताबिक सीमा विवाद को लेकर दोनों विशेष प्रतिनिधियों के बीच सीमा विवाद पर खुलकर गहराई के साथ बातचीत हुई। बातचीत में इस बात पर सहमति बनी कि भारत चीन वास्तविक नियंत्रण रेखा पर दोनों ही पक्ष अपनी सेनाएं पीछे हटेंगी। सीमा पर शांति बनाए रखने को सबसे बड़ी प्राथमिकता माना गया। सीमा से सेनाएं पीछे करने का काम चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा। वास्तविक नियंत्रण रेखा का सम्मान किया जाएगा। साथ ही सहमति बनी कि दोनों देशों में सैन्य और राजनयिक स्तर पर बातचीत जारी रहनी चाहिए।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *