Monday ,22-Apr-19 ,

एआरओ निर्वाचन अनुमति सम्बंधित फार्म लेकर ई-मेल से आरओ कार्यालय भेजें - कलेक्टर

  • Post on 2019-04-10

मन्दसौर | लोक सभा निर्वाचन 2019 के लिए मंदसौर संसदीय क्षेत्र 23 की तैयारियों के संबंध में सभी एआरओ की समीक्षा बैठक पुलिस कंट्रोल रूम में कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री धनराजू एस की अध्यक्षता में ली गई। बैठक के दौरान निर्देश देते हुए कहा कि राजनीतिक दलों एवं अभ्यर्थियों के द्वारा मांगे जाने वाली अनुमति के संबंध में फार्म सुविधा एप्प पर ऑनलाइन जमा करने के अलावा भी अगर एआरओ ऑफिस में जमा करते हैं, तो फार्म को मेल के माध्यम से आरो कार्यालय को प्रेषित करें। जिससे संबंधित उम्मीदवार को शीघ्र अनुमति प्राप्त हो सके। बैठक के दौरान कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री धनराजू एस, सीईओ जिला पंचायत श्री आदित्य सिंह, अपर कलेक्टर श्री अनिल कुमार डामोर, संसदीय क्षेत्र के सभी सहायक रिटर्निंग ऑफिसर, सभी सीईओ, उप जिला निर्वाचन अधिकारी, व्यय लेखा के नोडल अधिकारी, कम्युनिकेशन प्लान के नोडल अधिकारी, इवीएम मशीन के नोडल अधिकारी, स्वीप के नोडल अधिकारी उपस्थित थे। मतगणना के दिन गूगल शीट से प्रत्येक घंटे एमपी इलेक्शन को रिपोर्ट भेजें बैठक के दौरान संसदीय क्षेत्र के कम्युनिकेशन के नोडल अधिकारी को निर्देश देते हुए कहा कि मतगणना के दिन गूगल शीट के माध्यम से प्रत्येक घंटे एमपी इलेक्शन को रिपोर्ट भेजी जाना है। इसके लिए आवश्यक तैयारियां अभी से करके रखें। किसी प्रकार की समस्या होने पर उसके निराकरण के लिए दल को हमेशा तैयार रखें। 17 मई की शाम के पश्चात किसी भी प्रकार की अनुमति देने का अधिकार एआरओ को नहीं होगा। 17 मई के बाद कोई अनुमति नहीं जारी करें। अभ्यर्थी वाहन को सम्पूर्ण संसदीय क्षेत्र में चलाने के लिए अनुमति मांगते हैं तो उसकी अनुमति आरओ जारी करेंगे। वहीं विधानसभा क्षेत्र की अनुमति एआरओ स्तर से जारी होगी। 4 मई को ईवीएम मशीनों का द्वितीय रेंडमाइजेशन होगा। इसके माध्यम से सभी मशीनें मतदान केंद्र के अनुसार आवंटित हो जाएगी। इसी दिन ईवीएम मशीनों की कमिश्निंग का कार्य भी होगा। 6 मई को मतगणना दलों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। 10 एवं 14 मई को मतदाता पर्ची वितरण का कार्य होगा। 12 मई से लेकर 15 मई तक मतगणना हाल अनिवार्य रूप से तैयार कर ले। शैडो रजिस्टर दिनांक वार तैयार कर ले। हर विधानसभा क्षेत्र के लिए अलग-अलग शैडो रजिस्टर तैयार करें। इलेक्ट्रॉनिक कंटेंट्स के लिए सारी अनुमति आरओ स्तर से जारी होगी। इलेक्ट्रॉनिक कंटेंट्स में मतदान के 48 घंटे पूर्व पूर्णतः चुनाव प्रतिबंध रहेगा। प्रिंट मीडिया के अंतर्गत मतदान के 48 घंटे पूर्व विज्ञापन के संबंध में प्री सर्टिफिकेशन की आवश्यकता होगी। इस बात का सभी ध्यान रखें। संसदीय क्षेत्र के सभी एआरओ वनरेबल एवं क्रिटिकल मतदान केंद्रों की जानकारी रिटर्निंग ऑफिसर कार्यालय को तुरंत प्रेषित करें।